मोदी सरकार में संशोधित हुआ था बेनामी संपत्ति का कानून,इतने साल की सजा का है प्रावधान


आयकर विभाग ने गुरुवार को बेनामी संपत्ति के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करते हुए बसपा प्रमुख मायावती के भाई और उपाध्यक्ष आनंद कुमार व उनकी पत्नी की 400 करोड़ की संपत्ति जब्त की है।
आरोप है कि आनंद कुमार ने 12 फर्जी कंपनियों की सहायता से हजारों करोड़ की बेनामी संपत्ती अर्जित की।
आखिर क्या है देश में बेनामी संपत्ति कानून और दोषी पाए जाने पर कितने साल की सजा होती है।
क्या है बेनामी प्रॉपर्टी
जिसके नाम पर ऐसी संपत्ति खरीदी गई होती है, उसे 'बेनामदार' कहा जाता है।
बेनामी संपत्ति चल या अचल संपत्ति या वित्तीय दस्तावेजों के तौर पर हो सकती है। कुछ लोग अपने काले धन को ऐसी संपत्ति में निवेश करते हैं जो उनके खुद के नाम पर ना होकर किसी और के नाम होती है।