अमेठी की जीत से बढ़ा इरानी का कद,लोकसभा में पीएम मोदी संग पहली पंक्ति में बैठेंगी अमित शाह, रविशंकर के साथ

गृह मंत्री अमित शाह, कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद और महिला एवं बाल विकास मंत्री स्मृति इरानी को लोकसभा में पहली कतार में जगह दी जाएगी। पीएम नरेंद्र मोदी के साथ जगह पाने वाले ये तीनों ही नेता पिछले लोकसभा के सदस्य नहीं थे बल्कि राज्यसभा के मेंबर थे।


हाइलाइट्स

  • पीएम नरेंद्र मोदी के ठीक बगल में बैठेंगे रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, नरेंद्र सिंह तोमर, सदानंद गौड़ा को भी पहली पंक्ति में जगह

  • पिछली लोकसभा के मेंबर नहीं थे रविशंकर प्रसाद, अमित शाह और स्मृति, अमेठी में जीत से बढ़ा इरानी का कद

  • आडवाणी, सुषमा स्वराज, मुरली मनोहर जोशी और सदानंद गौड़ा नहीं है इस सदन के सदस्य, राहुल गांधी दूसरी पंक्ति में



 

नई दिल्ली 
लोकसभा में सत्ता पक्ष की बेंचों में जल्द ही बड़ा बदलाव देखने को मिलेगा। मोदी कैबिनेट में शामिल गृह मंत्री अमित शाह, कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद और महिला एवं बाल विकास मंत्री स्मृति इरानी को लोकसभा में पहली कतार में जगह दी जाएगी। पीएम नरेंद्र मोदी के साथ जगह पाने वाले ये तीनों ही नेता पिछली लोकसभा के सदस्य नहीं थे बल्कि राज्यसभा के मेंबर थे। 

विपक्ष की ओर से सोनिया गांधी, मुलायम सिंह यादव जैसे दिग्गज नेताओं को पहली कतार में जगह दी गई है। होम मिनिस्टर अमित शाह और रविशंकर प्रसाद इससे पहले राज्यसभा में पहली कतार में ही बैठते थे, लेकिन अमेठी की सांसद स्मृति इरानी के लिए यह पहला मौका है, जब वह संसद में पहली पंक्ति में बैठेंगी। पीएम मोदी की कतार में जगह मिलना उनके लिए बीजेपी की आंतरिक राजनीति में कद बढ़ने जैसा है।


इससे पहले अमेठी में राहुल गांधी को हराकर कब्जा जमाने वालीं स्मृति इरानी राज्यसभा में पहली कतार का हिस्सा नहीं थीं। हालांकि राहुल गांधी को सीटों के आवंटन में दूसरी पंक्ति में जगह दी गई है। बुधवार को लोकसभा स्पीकर ओम बिरला की ओर से जारी सूची में केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी, नरेंद्र सिंह तोमर, सदानंद गौड़ा, अर्जुन मुंडा और अरविंद सावंत को भी पहली पंक्ति में ही जगह दी गई है। 

अधीर रंजन और बालू को विपक्ष से पहली कतार में जगह
 
इसके अलावा विपक्षी दलों की बात की जाए तो लोकसभा में कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी, डीएमके के लीडर टीआर बालू को भी पहली कतार में स्थान दिया गया है। कुछ अन्य बड़े दलों की बात की जाए तो जेडीयू, तृणमूल कांग्रेस और वाईएसआर कांग्रेस के सदस्यों को भी प्रथम पंक्ति में मौका मिला है। 

आडवाणी, सुषमा, जोशी और देवगौड़ा नहीं दिखेंगे
 
आपको बता दें कि प्रधानमंत्री की सीट स्पीकर के ठीक दाईं ओर होती है। उनके ठीक बगल में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह को स्थान दिया गया है। साफ है कि वह पीएम मोदी के बाद एक तरह से नंबर दो की स्थिति में लोकसभा में होंगे। इससे पहले 16वीं लोकसभा में लालकृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी और सुषमा स्वराज जैसे दिग्गज नेता पहली पंक्ति में थे। इस बार उनकी गैरमौजूदगी में अन्य नेताओं को मौका मिला है। पूर्व पीएम एचडी देवेगौड़ा चुनाव में हार के बाद लोकसभा में नहीं हैं। इसके अलावा लोकसभा की पहली पंक्ति में एक सीट उपसभापति के लिए रिक्त रखी गई है, जिसका चुनाव अभी नहीं हुआ है।