सैन्य इतिहास में पहली महिला होंगी, जिन्हें यह सम्मान दिया जाएगा

PAK के F16 को गिराने में की थी अभिनंदन की मदद.. स्क्वाड्रन लीडर मिंटी को मिलेगा युद्ध सेवा मेडल



  नई दिल्ली : बालाकोट एयर स्ट्राइक के दौरान पाकिस्तान के F16 गिराने वाले विंग कमांडर अभिनंदन को आज वीर चक्र से सम्मानित किया जाएगा। पाकिस्तान के खिलाफ बहादुरी दिखाने वाले वायुसेना के 7 अफसरों के लिए वीरता पुरस्कारों ऐलान किया गया, वहीं 5 अन्य वायुसेना अफसरों को विशिष्ट सेवा के लिए युद्ध सेवा मेडल देने की भी घोषणा की गई।


युद्ध सेवा मेडल पाने वाले अफसरों में एक नाम स्क्वाड्रन लीडर मिंटी अग्रवाल का है, जो 27 फरवरी को कश्मीर में पाक विमानों की घुसपैठ के दौरान फाइटर प्लेन कंट्रोलर की जिम्मेदारी संभाल रही थीं। पाक के लड़ाकू विमान F16 के हमले नाकाम करने और उन्हें मार गिराने में विंग कमांडर अभिनंदन वर्तमान की मदद करने वाली मिंटी सैन्य इतिहास में पहली महिला होंगी, जिन्हें यह सम्मान दिया जाएगा। युद्ध सेवा मेडल युद्ध या तनाव की स्थिति में राष्ट्र के लिए विशिष्ट सेवा देने वाले सैनिकों को दिया जाता है। आपकी जानकारी के लिए एक बात बता दें कि यह मेडल वीरता पुरस्कारों की श्रेणी में नहीं आता।


 


जब भारत की सीमा में पाक के F16 घुसे थे तो मिंटी ने पाक के एफ-16 विमानों की हलचल देखते ही भारत के मिराज और सुखोई विमानों को अलर्ट कर दिया। अभिनंदन एफ-16 गिराने के दौरान एलओसी पार कर गए थे तो तुरंत मिंटी ने अभिनंदन को रोका और तुरंत वापिस आने को कहा। कम्युनिकेशन जैम होने के कारण अभिनंदन मिंटी का निर्देश नहीं सुन पाए।


आपकी जानकारी के लिए बता दें कि फ्लाइट कंट्रोलर्स वायुसेना में अहम जिम्मेदारी निभाते हैं। वे ही तय करते हैं कि फाइटर प्लेन कभी बेड़े से दूर अकेले न उड़ें। इसके अलावा दुश्मन विमानों पर नजर रखने में भी फाइटर कंट्रोलर ही अहम भूमिका निभाते हैं। मिंटी इस मामल में काफ निपुण हैं। उनके अपने काम को बखूबी निभाया। मिंकी की यह एक और बड़ी उपलब्धि है।