मीठा खाते हैं तो घबराने की जरूरत नहीं,मधुमेह को हल्दी और आंवले का चूर्ण कर देगा खत्म


    वाराणसी। अधिकांश लोगों को यही जानकारी होती है कि अगर वह मीठा अधिक खा रहे हैं तो ही मधुमेह होगा। लेकिन ऐसा नहीं है।
   अच्छी सेहत के लिए मीठा खाना भी जरूरी है। अगर सावधानी बरत रहे हैं तो आप मधुमेह से बच सकते हैं। कई उपाय ऐसे हैं जो आप घर में ही कर सकते हैं। 
   यदि मधुमेह शुरुआती दौर में है तो हल्दी और आंवले का चूर्ण रोज सुबह लेने से उपयोगी साबित हो सकता है।
     आयुर्वेदिक चिकित्सा पद्धति में 20 प्रकार के मधुमेह का जिक्र है। बेहतर जीवन शैली से इनमें से 16 प्रकार की डायबिटीज से बचा जा सकता है। 
    बीएचयू आयुर्वेद संकाय के वैद्य सुशील दूबे के अनुसार, 10 को कफज प्रमेह, 6 को पित्तज और चार को वातज कहा जाता है।