पूर्व प्रधान हत्याकांड:मुस्लिम पक्ष की पैरवी करना पड़ा भारी, खुन्‍नस में लोगों ने कर दी हत्या

जौनपुर: नीलू हत्याकांड: मुस्लिम पक्ष की पैरवी करना पड़ा भारी, खुन्‍नस में लोगों ने कर दी हत्या


जौनपुर। जिले में मुस्लिम पक्ष के लोगों का समर्थन करने पर कुछ लोगों ने मारपीट कर हत्‍या कर दी। दरअसल जरौटा गांव में प्रेमनारायण सिंह नीलू की गुरुवार की रात लाठी डंडे से पीटने के बाद चाकू मारकर हुई हत्या के मामले में दो नामजद व एक अन्य को पुलिस ने कूसा पुल के पास से गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। तीनों ने हत्या में शामिल होने की बात कबूल की। अभियुक्तों की निशानदेही पर घर से हत्या में प्रयुक्त लाठी पुलिस ने बरामद कर ली है।
             आरोपितों ने नीलू की हत्या की वजह मुस्लिम पक्ष की पैरवी और दबंगई बताया। पुलिस जांच में जुटी है लेकिन कुछ भी बताने से इनकार कर रही हैं। रविवार दोपहर को आलमगंज चौराहे पर इंस्पेक्टर मुन्ना राम, रमेश यादव हमराही के साथ खड़े होकर बात कर रहे थे तभी मुखबिर से सूचना मिली कि जरौटा गांव में नीलू की हत्या में शामिल तीन अभियुक्त निगोह से टैम्पो पर सवार होकर सुरियावां की तरफ जा रहे हैं।
             इस पर पुलिस ने कूसा पुल के पास पहुंचकर घेरेबंदी कर टैम्पो रोका तो तीनों उतर कर भागने लगे। पुलिस ने तीनों को कुछ दूर दौड़ा कर पकड़ लिया। थाने पर ले आने के बाद पुलिस ने कड़ाई से पूछताछ किया तो तीनों टूट गये। पकड़े गये अभियुक्त ने अपना नाम चन्द्रसेन पटेल, सूरज पटेल व राकेश पटेल निवासी जरौटा बताया है। हत्या मे छः नामजद और चार पाच अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज पुलिस अभी तीन आरोपित को गिरफ्तार किया है।