अस्पताल में मरीज़ों का हो रहा है शोषण इमरजेंसी में बैठे डॉक्टर कर रहे है मरीज़ों का उत्पीड़न

      मुरादाबाद*उत्तर प्रदेश के जिला मुरादाबाद के जिला अस्पताल के डॉक्टर योगी सरकार को बदनाम करने का काम कर रहे है जिला अस्पताल में मरीज़ों का हो रहा है शोषण इमरजेंसी में बैठे डॉक्टर कर रहे है मरीज़ों का उत्पीड़न इमरजेंसी से डॉक्टर बोलते है ओपीडी मे दिखाओ ओपीडी मे जाने के बाद देखा जाता है कि डॉक्टर अपने चैम्बर मे ही नही है सुबह 11: 00 बजे डॉक्टर चैम्बर मे क्यों नही है और जो वहाँ डॉक्टर के जूनियर बैठे होते है वो बोलते है इमरजेंसी मे दिखाओ जब इस सम्बंध मे सीएमएस डॉक्टर ज्योत्स्ना पन्त से शिकायत की गई तो सीएमएस ज्योत्स्ना पन्त के लिखकर देने के बाद ही इमरजेंसी मे बैठे हुए डॉक्टर ने मरीज़ को भर्ती किया जिसमें मरीज़ को इमरजेंसी वार्ड के बेड खाली होने के बाद भी मेडिकल वार्ड तृतीय मंज़िल पर भर्ती किया है जिसमे मरीज़ के तीमारदार ने जब डॉक्टर से इमरजेंसी वार्ड मे भर्ती करने की बात कही तो डॉक्टर ने बोला कि सीएमएस मेडम से कहो वही इमरजेंसी मे भर्ती करेंगी जहाँ एक तरफ तो सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अपनी जनता को बेहतर व अच्छा उपचार दिलाने की बात कर रहे है प्रधानमंत्री जी आयुष्मान कार्ड के माध्यम से निःशुल्क व बेहतर उपचार दिलाने की बात कर रहे तो जिला अस्पताल के डॉक्टर उस पर पलीता लगाते साफ़ नज़र आ रहे है।