अयोध्या केस: मुस्लिम पक्ष की मांग, 👉विध्वंस से पहले जैसी बाबरी मस्जिद🕌 चाहिए

 


अयोध्या राम जन्मभूमि मामले में हिन्दू महासभा ने मॉल्डिंग ऑफ रिलीफ पर सुप्रीम कोर्ट में लिखित हलफनामा दाखिल किया है। इसके अलावा मुस्लिम पक्ष ने सुप्रीम कोर्ट में सीलबंद लिफाफे में मॉल्डिंग ऑफ रिलीफ दाखिल किया है। सूत्रों के मुताबिक मुस्लिम पक्ष ने मॉल्डिंग ऑफ रिलीफ में कहा कि उन्हें वही राहत चाहिए जो उन्होंने बहस के दौरान कही थी।


दरअसल, मुस्लिम पक्ष के वकील राजीव धवन ने बहस के दौरान कहा था कि उन्हें विध्वंस से पहले की हालत वाली बाबरी मस्जिद चाहिए। यानी विवादित जगह पर बाबरी मस्जिद ही चाहिए, वो भी वैसी चाहिए जैसी 1992 में 6 दिसंबर की सुबह तक थी।


वहीं हिन्दू महासभा के मॉल्डिंग ऑफ रिलीफ में कहा गया है कि अयोध्या में जन्मस्थान पर राम मंदिर के निर्माण पर पूरी मंदिर की व्यवस्था के लिए सुप्रीम कोर्ट एक ट्रस्ट बनाए। इसके साथ ही इसका पूरा उपक्रम सुप्रीम कोर्ट के जरिए नियुक्त एडमिनिस्ट्रेशन के जरिए हो।