नोडल अधिकारी की जांच में फिसड्डी पाया गया ये विभाग,*

*जौनपुर: नोडल अधिकारी की जांच में फिसड्डी पाया गया ये विभाग,*
*लगाई कड़ी फटकार, दिए निर्देश*
      जौनपुर। जिले के नोडल अधिकारी के रविन्द्र नायक बुधवार को अचानक विकास भवन पहुंचकर समाज कल्याण विभाग और जिला पंचायत राज अधिकारी कार्यालय की जांच पड़ताल किया। 
    अचानक नोडल अधिकारी के पहुंचने से पूरे विकास भवन में हड़कंप मच गया। जांच पड़ताल में डीपीआरओ कार्यालय में भारी खामियां मिलने पर उन्होने डीपीआरओ और दो बाबुओं को कड़ी फटकार लगायी। 
    उन्होने डीपीआरओ को यह तक कह डाला कि आप इस पद रहने लायक ही नही हो। साहेब का कड़ा रूख देखकर पूरा कार्यालय सहम गया।  
   सचिव आयुक्त ग्राम्य विकास विभाग उत्तर प्रदेश शासन व जिले के नोडल अधिकारी  के0 रविन्द्र नायक एवं जिलाधिकारी द्वारा विकास भवन के समाज कल्याण विभाग, जिला पंचायत राज अधिकारी के कार्यालय का निरीक्षण किया।
    निरीक्षण के दौरान नोडल अधिकारी को कई खामियां मिली जिस पर उन्होंने डीपीआरओ को जमकर फटकार लगाई।
    नोडल अधिकारी ने शिकायत प्रकोष्ठ पटल के रवि कुमार पाठक से दिन भर में किए गए कार्यो की जानकारी प्राप्त की, जिसे वे नहीं बता पाए। कनिष्ठ सहायक राकेश सिंह द्वारा कर्मचारियों की सर्विस बुक सही नहीं भरी गई थी जिस पर नोडल अधिकारी ने सख्त नाराजगी व्यक्त करते हुए 15 दिन के अंदर सभी की सर्विस बुक सही करने के निर्देश दिये, कार्य पूर्ण न करने पर निलम्बन की कार्यवाही की जाएगी।
   उन्होंने डीपीआरओ को निर्देश दिया कि अपने कर्मचारी रवि कुमार पाठक से कार्यालय कार्य न करने पर कर्मचारी का वेतन रोके नहीं तो उनका ही वेतन रोक दिया जाएगा। उन्होंने कार्यालय में साफ-सफाई फाइलों पर नंबर डालने तथा उनके व्यवस्थित तरीके से रखने के निर्देश दिए।