अन्तरजनपदीय एटीएम हैकर्स गैंग के 7 सदस्य गिरफ्तार

प्रतापगढ़ : 


 


-एटीएम स्वैप मशीन और 11 एटीएम कार्ड बरामद 


 



प्रतापगढ़, 24 नवम्बर । जिले की स्वॉट टीम और थाना जेठवारा पुलिस ने रविवार को अन्तरजनपदीय एटीएम हैकर्स गैंग के 7 सदस्यों को गिरफ्तार किया है। उनके पास से दो चार पहिया, दो बाइक, दो तमंचा, 13 कारतूस, 21 हजार 540 रुपये नकद और एक एटीएम स्वैप मशीन व 11 एटीएम कार्ड बरामद कर किया गया। सभी को जेल भेज दिया गया है।अपर पुलिस अधीक्षक पश्चिमी दिनेश कुमार द्विवेदी ने बताया कि स्वॉट टीम के साथ क्षेत्राधिकारी अपराध आलोक सिंह, क्षेत्राधिकारी सदर अरविन्द वर्मा के साथ प्रभारी निरीक्षक जेठवारा थाना क्षेत्र के सराय आनादेव राय पेट्रोल पंप के पास वाहनों की चेकिंग कर रहे थे। तभी एटीएम की हेराफेरी करने वाले एवं गैंगस्टर जैसे मुकदमों से छूटे कुछ अपराधी शहर की तरफ से कुण्डा मार्ग आ रहे थे। मुखबिर की सूचना पर उक्त पुलिस टीम बढ़नी मोड़ के पास वाहन चेकिंग करने लगी। बैरियर गिराकर उन्हें रोका गया तो गाड़ी रुकते ही स्वीफ्ट डिजायर से दो अभियुक्त व मोटर साइकिल से एक अभियुक्त को पकड़ लिया गया। पीछे आ रहे दूसरे लोग भागने लगे जिन्हें पुलिस टीम द्वारा घेराबन्दी कर गिरफ्तार किया गया। गिरफ्तार अभियुक्तों ने पूछताछ में बताया कि एटीएम मशीन से पैसे निकालने आने वाले गांव के व्यक्ति, बुजुर्ग, महिला को टारगेट करते हैं। हममें से एक एटीएम मशीन मे जाकर सहायता करने की आड़ में उसका पिन कोड जानकर एवं एक छोटे मशीन से जो अपने हाथ में छिपाकर रखता है, उस व्यक्ति के एटीएम को स्वैप कर लेता है। इनमें शहजाद, वीरेन्द्र कुमार दूबे, अभिषेक पाण्डेय उर्फ काली उस स्वैप मशीन को लैपटाप से जोड़कर एटीएम का क्लोन तैयार करने में माहिर हैं। फिर तैयार एटीएम से अलग अलग जगह जाकर पैसे निकाल लेते हैं। दूसरा तरीका यह है कि झांसा देकर एटीएम को नकली एटीएम से बदल लेते हैं। गैंग के सदस्य एटीएम के बाहर आस-पास रहते हैं। किसी गड़बड़ी की दशा में सभी जनता के व्यक्ति बनकर गैंग के सदस्यो को बचाकर निकाल लेते हैं। ये लोग जौनपुर, आजमगढ़, फतेहपुर, प्रयागराज, कौशाम्बी, प्रतापगढ़ व सुल्तानपुर में जाकर एटीएम से हेराफेरी करने का काम करते हैं।
इस कार्य के लिए दो पहिया वाहन व चार पहिया वाहन को प्रयोग करते है व अपराध के लिए अलग अलग घटना के लिए फर्जी नम्बर प्लेट लगाकर इन वाहनों का प्रयोग करते हैं। अपनी सुरक्षा के लिए ये लोग अपने पास अवैध असलहा रखते हैं। मौके दर मौके भय व आतंक पैदा कर अवैध असलहा रखने से सहूलियत रहती है। 
आरोपितों में सैयाद खान सगरा सुन्दरपुर तिलौरी, शाबान खान निवासी ढकवा पूरे बीरबल, जादूगर निवासी खडगपुर थाना लालगंज, अमित पाण्डेय निवासी पूरे रामलाल डाड़ी, मंजीत यादव और वीरेन्द्र कुमार दूबे पतुलकी, दिनेश कुमार थाना जेठवारा जनपद प्रतापगढ़ शामिल हैं।