अयोध्या से जनकपुर तक निकाली जाएगी राम बारात..PM मोदी और योगी हो सकते हैं शामिल


दिल्ली/लखनऊ: (अरुण सिंह)राम मंदिर के पक्ष में आए सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद इस बार अयोध्या से भव्य राम बारात निकाली जाएगी। विश्व हिन्दू परिषद (विहिप) के तत्वावधान में अयोध्या से जनकपुर (नेपाल) तक निकाली जाने वाली राम बारात इस साल और ज्यादा धूमधाम से निकाली जाएगी।


खबरें हैं कि इस बार राम बारात में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सहित देश प्रमुख विशिष्ट व्यक्तियों के साथ ही नेपाल के राजपरिवार के शामिल होने की संभावना है। खबर है कि एक दिसंबर को आयोजित राम विवाह में पीएम मोदी व सीएम योगी को विवाह के साक्षी बनने के लिए आमंत्रित किया गया है।


वहीं, राम बारात के लिए कारसेवकपुरम में रथ को सजाने का काम शुरू हो गया है। श्रीराम विवाह आयोजन समिति के संयोजक राजेन्द्र सिंह पंकज ने बताया, 'बारात 21 नवंबर को धूमधाम से निकाली जाएगी। यह बारात विभिन्न पड़ावों से गुजरते हुए 28 नवंबर को जनकपुर पहुंचेगी। 29 नवंबर को दशरथ मंदिर के प्रांगण में तिलकोत्सव, 30 नवम्बर को कन्या पूजन के अलावा मटकोर का आयोजन किया जाएगा।'
उन्होंने बताया, 'बारात कार और बस से जाएगी। इसके साथ भगवान के स्वरूपों का रथ भी शामिल होगा। राम बारात की शुरुआत लक्ष्मण किलाधीश महंत सीतारामशरण महाराज ने की थी। पंकज ने बताया, “बारात के साथ दो सुसज्जित रथ रहेंगे जिस पर भगवान के स्वरूप रहेंगे। इस बार बारात में अयोध्या, हरिद्वार, छत्तीसगढ़ और मध्य प्रदेश के संत शामिल होंगे। इसके अलावा नेपाल के राज परिवार के शामिल होने की संभावना है।