डॉक्टर जितेन्द्र कटियार मनीषा नर्सिंग होम की इलाज में घोर लापरवाही के चलते युवक की चली गई जान

*डॉक्टर जितेन्द्र कटियार मनीषा नर्सिंग होम की इलाज में घोर लापरवाही के चलते युवक की चली गई जान, उच्चाधिकारियों    से  शिकायत कर कार्यवाही की माँग*



आपरेशन के नाम पर 28 हजार रूपए जमा करवा लिए फिर भी नहीं किया आपरेशन हालात खराब होने पर  अस्पताल से कर दिया बाहर। दूसरे अस्पताल के जाते समय रास्ते में हुई मौत।


*उत्तर प्रदेश फर्रुखाबाद:-*


उत्तर प्रदेश के फर्रुखाबाद में लोहाइ रोड पर संचालित मनीषा नर्सिंग होम के डॉक्टर जितेंद्र कटिहार की इलाज में  घोर लापरवाही के चलते एक युवक की जान चली गई।   एक महिला ने घोर लापरवाही का आरोप लगाया है जिला हरदोई के थाना पाली के ग्राम  खितौली  की रहने वाली मंजू देवी  नाम की महिला ने पुलिस अधीक्षक फतेहगढ़ मुख्य मंत्री, महिला आयोग से की गई शिकायत में बताया है कि उसने अपने पति उमाकांत को पेट रोग से ग्रसित होने के इलाज के लिए 20 सितंबर को शाम के समय मनीषा नर्सिंग होम में भर्ती कराया था, जिसमें दो जितेन्द्र कटियार ने आंत भष्ट बताई जिसके ऑपरेशन हेतु 25 हजार रुपये जमा करने के लिए कहा जिसमें प्रार्थी ने ₹18000 जमा कर दिया प्रार्थिनी के पति को डॉक्टर ने 2 दिन तक भर्ती रखा तथा दवाई के खर्चा के लिए भी ₹6000 अलग से जमा कराए, इस दौरान प्रार्थिनी के पति की हालत अधिक खराब होती गई और प्रार्थिनी के बार बार कहने पर भी डॉक्टर ने ऑपरेशन नहीं किया तथा बिना ऑपरेशन प्रार्थनीय के पति को अस्पताल से बाहर कर दिया प्रार्थनीय ऑपरेशन के नाम पर लिए गए रुपए मांगे तो डॉक्टर जितेंद्र कटिहार ने ऑपरेशन करने ₹18000 वापस करने से इंकार कर दिया डॉक्टर की लापरवाही के कारण प्रार्थनीय गंभीर अवस्था में अपने पति को बरेली में भर्ती कराया जहां पर डॉक्टर की लापरवाही के कारण वेंटिलेटर की हालत हो गई थी दवाई और ऑपरेशन आदि के लिए प्रार्थना ने अपना खेत बेचकर ₹4 लाख खर्च किया बरेली में डॉक्टरों ने मरीज की हालत गंभीर होते देख कर  उच्च स्तरीय उपचार हेतु पति को रेफर कर दिया 27 सितंबर को मेडिकल कॉलेज लखनऊ के गेट पर डॉ जितेंद्र कटियार की लापरवाही के कारण पति की म्रत्यु हो गई प्रार्थिनी ने अपने पति का अंतिम संस्कार करा कर 9 अक्टूबर को तेरहवीं के बाद मनीषा नर्सिंग होम गई जा डॉक्टर जितेंद्र कटिहार से अपने ₹18000 मांगे तो डॉ जितेंद्र कटियार और उनके कंपाउंडर ने प्रार्थिनी और प्रार्थना के देवर विपिन बिहारी व श्रीकांत को गाली गलौज करते हुए मारपीट कर हॉस्पिटल के बाहर भगा दिया दोबारा पैसे मांगने पर जान से मार देने की धमकी दी महिला का आरोप है कि डॉक्टर ने अगर समय के चलते ऑपरेशन कर दिया होता तो उसके पति की मृत्यु नहीं होती डॉक्टर की लापरवाही के चलते उसके पति को अपनी जान गंवानी पड़ी पीड़ित महिला ने मामले की शिकायत पुलिस अधीक्षक मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ एवं महिला आयोग से की है l