जिन्हें वंदेमातरम स्वीकार नहीं है, उन्हें देश में रहने का अधिकार नहीं है : प्रताप चंद्र सारंगी

 


केंद्रीय पशुधन,डेरी और मत्स्यपालन मंत्री प्रताप चंद्र सारंगी ने कहा कि जो लोग वंदेमातरम को नहीं स्वीकार करते हैं, उन्हें देश में रहने का कोई अधिकार नहीं है। वह भुवनेश्वर में आयोजित जनजागरण सभा में धारा 370 खत्म करने पर बोल रहे थे। कहा कि यह ऐतिहासिक कदम है।
धारा 370 खत्म करने का विरोध करने पर केंद्रीय मंत्री प्रताप चंद्र सारंगी ने कांग्रेस पर कड़ा हमला किया। कहा कि जो लोग वंदे मातरम बोलना नहीं स्वीकार कर सकते हैं, उन्हें देश में रहने का अधिकार नहीं है। सभी लोग मोदी को सराह रहे हैं। भुवनेश्वर में शनिवार को आयोजित जनजागरण सभा में उन्होंने कहा कि जब बीजेपी की कट्टर विरोधी पार्टियां प्रधानमंत्री मोदी के कदम की सराहना कर रही हैं, तह कांग्रेस इसका विरोध कर रही है।


पीओके और सियाचीन भी हमारा है अमित शाह ने कांग्रेस पार्टी को साफ कर दिया है कि पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर (पीओके) और सियाचीन भी भारत का हिस्सा है। ओडिसा के बालासोर से पहली बार निर्वाचित प्रताप चंद्र सारंगी ने कहा कि जो लोग वंदे मातरम बोलना नहीं स्वीकार कर सकते हैं, उन्हें देश में रहने का अधिकार नहीं है।


72 साल बाद कश्मीरियों को मिली आजादी  केंद्रीय पशुधन, डेरी और मत्स्य पालन राज्य मंत्री श्री सारंगी जलशक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत के कार्यक्रम में पहुंचे और कहा कि धारा 370 को खत्म करने के लिए 72 साल पहले निर्णय लिया गया था। यह नरेंद्र मोदी की सरकार हैं, जिसने 72 साल बाद कश्मीरियों को पूरे अधिकार दी।
माहौल शांतिपूर्ण और सुखद  कहा, जम्मू-कश्मीर में अब माहौल शांतिपूर्ण है। वहां भूमि की खरीदारी शुरू हो गई है। अब वहां की बेटियां आराम से कहीं भी शादी कर सकती हैं और रह सकती हैं। कहा कि इस कदम के बाद से टुकड़े-टुकड़े गैंग और आतंकियों के समर्थक परेशान हैं। कहा कि पूरा संसार कश्मीर से धारा 370 हटाने की सराहना कर रहा है जबकि देश की कुछ पार्टियां और नेता इसको हटाने के तरीके का विरोध करने में लगे हैं।