नोडल अधिकारी ने किया सीएचसी तथा कोतवाली केराकत का निरीक्षण


 
जौनपुर  सचिव एवं आयुक्त ग्राम्य विकास विभाग उत्तर प्रदेश शासन/नोडल अधिकारी जनपद जौनपुर के0 रविन्द्र नायक ने सीएचसी तथा कोतवाली केराकत का निरीक्षण किया।  सीएससी केराकत के निरीक्षण में नोडल अधिकारी ने मरीजों से बात करके अस्पताल में मिलने वाली सुविधाओं की जानकारी प्राप्त की। महिला वार्ड में भर्ती रंजना पत्नी राजीव गिरि, नीतू पत्नी राम चरण, आरती पत्नी महेंद्र से अस्पताल में दिए जाने वाले भोजन की जानकारी प्राप्त की तथा उनसे पूछा कि दवाइयों के पैसे तो नही लिए जाते हैं या फिर बाहर की दवाइयों तो नहीं लिखी जाती है। मरीजों ने बताया कि नाश्ते में चाय, बिस्कुट, खाने में रोटी, दाल, चावल, सब्जी दी गई। अस्पताल में दवाइयां मुफ्त मे दी जाती हैं। बाहर की दवाइयां नहीं लिखी जाती है। नोडल अधिकारी ने अस्पताल की पुरानी बिल्डिंग को मरम्मत कराने के लिए मुख्य चिकित्सा अधिकारी को कहा। नोडल अधिकारी ने दवा वितरण कक्ष में दवाइयों की एक्सपायरी डेट का निरीक्षण किया तथा सीएमओ को निर्देश दिया कि मैन्युफैक्चरिंग तिथि से 06 माह के अंदर की दवा ही एजेंसी से लें। प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना के 35 प्र्रतिशत लाभार्थियों को अभी तक लाभ न मिलने पर नोडल अधिकारी ने सख्त नाराजगी व्यक्त करते हुए कार्य न करने वाली आशाओं तथा एएनएम को निकालने के निर्देश चिकित्सा अधिकारी अधीक्षक डा0 राजेश कुमार को दिए। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना की समीक्षा प्रतिदिन करें तथा शेष बचे हुए लाभार्थियों को शीघ्र लाभ दिलाएं। 
केराकत थाने का निरीक्षण करते हुए नोडल अधिकारी ने थाने में साफ सफाई रखेने तथा अज्ञात वाहनो के नीलाम कराने के निर्देश दिये। इस दौरान उन्होंने शिकायत कर्ता नवीन पुत्र सन्तलाल से फोन पर बात कर जानकारी प्राप्त की कि पुलिस की कार्यवाही से सन्तुष्ट है अथवा नही। उन्होने कहा कि हल्का क्षेत्र की सिपाही को उसके क्षेत्र की जानकारी हानी चाहिए।
              इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी गौरव वर्मा, अपर पुलिस अधीक्षक शहर अनिल पाण्डये, अपर जिलाधिकारी भू-राजस्व डा0 सुनील वर्मा, क्षेत्राधिकारी रामभवन यादव, जिला विकास अधिकारी दयाराम, जिला अर्थ एवं संख्याधिकारी रामदरश यादव उपस्थित रहे।