सभी उपजिलाधिकारी गण एवं तहसीलदार देख ले कि जिन्हें वर्षा ऋतु से हुई हानि की राहत देनी थी दे दी गई या नही ,जिम्मेदारी तय करें

 


आज तहसील दिवस बदलापुर में देखने को मिला काफी संख्या में लोगों के वर्षा ऋतु में घर गिर गए थे उनको जो मुआवजा मिलना चाहिए था वह अभी तक नहीं दिया गया ।एक व्यक्ति मुझसे मिला उसका घर जुलाई में गिर गया था लेखपाल ने रिपोर्ट भी दे दी थी ।आरके ने उस रिपोर्ट को जांच के लिए कानून गो को भेजा था लेकिन कानूनगो ने अपनी जांच रिपोर्ट आज तक नहीं दी। जबकि शासन ने 24 घंटे में राहत देने के निर्देश दिए थे। घोर लापरवाही बरती गई है ।संबंधित कारण को को प्रतिकूल प्रविष्टि आरके के खिलाफ विभागीय कार्रवाई व तहसीलदार को चेतावनी दी गई है।इसी प्रकार की लापरवाही सभी जगह होने की संभावना है।


   अतः सभी उपजिलाधिकारी और तहसीलदार तत्काल अपने-अपने तहसीलों में देख ले जिनको जो राहत दी जानी थी वह दे दी गई है कि नहीं। ना दी गई हो तो तत्काल दी जाए ।


    और अब तक ना देने वालों के लिए जिम्मेदारी तय की जाए ।7 तारीख की शाम तक मुझे इस आशय का प्रमाण पत्र एसडीएम के हस्ताक्षर से भेजा जाए कि उनके यहां कोई भी दैवी आपदा राहत के लिए शेष नहीं है। अपर जिलाधिकारी इस कार्य की मार्केटिंग करेंगे और सभी क्षेत्र ऐसे लोगों से इस तरह का प्रमाण पत्र लेकर मेरे समक्ष 8 नवंबर को प्रस्तुत करेंगे।