यूपी-बिहार बार्डर पर अब लगेगा सीसीटीवी, सभी कैमरे होंगे आनलाइन


*यह कैमरा इंटरनेट से जुड़ा रहेगा जिसका डिस्प्ले पुलिस कार्यालय व पुलिस अधिकारियों के मोबाइल पर भी होता रहेगा।*...
* *तस्करी व अपराध पर रोक लगाने के लिए अब पुलिस विभाग एक और कदम उठाने जा रहा है। नौ दिन के अंदर यूपी-बिहार के मेहरौना बार्डर को सीसीटीवी कैमरे से लैस कर दिया जाएगा। साथ ही भागलपुर पुलिस चेकपोस्ट व कपरवार तिराहे को भी सीसीटीवी कैमरा से लैस करने की तैयारी है। इसके लिए पुलिस विभाग ने संबंधित ठेकेदार को जिम्मेदारी भी सौंप दी है।*
*चर्चा में रहता है मेहरौना चेकेपोस्‍ट*
*यूपी-बिहार बार्डर पर जनपद का मेहरौना चेकपोस्ट आए दिन चर्चा में रहता है। इस रास्ते शराब, पशु समेत अन्य तस्करी होती है। आए दिन पुलिस की कार्यशैली पर भी अंगुली उठाई जाती है। अब इस चेकपोस्ट पर पुलिस अधिकारियों की सीधे नजर रहेगी*।
*इंटरनेट से जुड़ा रहेगा कैमरा*
एसपी ने इस चेकपोस्ट पर सीसीटीवी कैमरा लगाने का निर्देश दिया है। यह कैमरा इंटरनेट से जुड़ा रहेगा, जिसका डिस्प्ले पुलिस कार्यालय व पुलिस अधिकारियों के मोबाइल पर भी होता रहेगा। इसके अलावा मईल थाने के भागलपुर चेकपोस्ट व बरहज के कपरवार में भी सीसीटीवी कैमरा लगेगा। एसपी डा.श्रीपति मिश्र ने कहा कि इन तीनों स्थानों पर नौ दिन के अंदर सीसीटीवी कैमरे लगा दिए जाएंगे।
*अवैध कार्य धड़ल्‍ले से जारी*
*यूपी-बिहार सीमा से लगा देवरिया जिला हमेशा से चर्चा में रहा है। सर्वाधिक चर्चा शराब तस्‍करी को लेकर है। इसी रास्‍ते बिहार को तस्‍करों के जरिये बड़े पैमाने पर शराब आपूर्ति की जाती है। बिहार में हरियाण निर्मित शराब की काफी डिमांड है। यही कारण है कि प्रतिदिन इस रास्‍ते बिहार को शराब आपूर्ति की जाती है। कभी ट्रक में तो कभी मिनी ट्रक और अब लग्‍जरी गाडि़यों में शराब भरकर भेजा जा रहा है। शराब तस्‍करी रोकने में विफल देवरिया पुलिस ने अब इस पर रोक के लिए सीसीटीवी लगाने का निर्णय